बड़े पापा को, पापा की तरफ से

चलो आज फिर से वही काम करते है,आज फिर अतीत में चलो साथ चलते है ।चलो छिप जाते है फिर से मुखोंटो के बीच,बेवजह एक और दिन बर्बाद करते है ॥ वह रातें याद है जब, मिलने आया करते थे,न आंखे, न बातें बंद हो पाती थी मेरी,सोच कर के सुबह न मिल पाएंगे शायद,हो… Continue reading बड़े पापा को, पापा की तरफ से

The Magical Touch

Your hands touched me, only to be followed by the kiss.The one for whom I’d die, yes, you were the one, a bliss, But nor did I think, my wish’d come true,it just followed, and it wasn’t from a grue. Hard as a stone, who once was so kinddeclared dead, buried, and just left behind.… Continue reading The Magical Touch